उत्तराखंड में विजिलेंस की बड़ी कार्रवाई- रिश्वत लेते हुए अरेस्ट हुआ रजिस्ट्रार कानूनगो

जनादेश/हल्द्वानी: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य को भ्रष्टाचार से मुक्त करने के लिए सख्त रवैया अपनाया हुआ है। ऐसे में विजिलेंस का भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान जारी है। विशेष तौर पर प्रदेश के प्रशासनिक अफसरों को रिश्वत और भ्रष्टाचार से निपटने के लिए यह अभियान चलाया गया है। इसके बावजूद भी कई अफसर मुख्यमंत्री धामी के आदेश की परवाह नहीं कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला हल्द्वानी से सामने आया है। विजिलेंस की टीम ने आज हल्द्वानी तहसील में कार्यरत रजिस्ट्रार कानूनगो बनवारी लाल को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। सुबह करीब 10 बजे बनवारी लाल को विजिलेंस ने 10 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा है। पूछताछ के बाद इस रिश्वतखोर अफसर को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

शिकायतकर्ता ने विजिलेंस को शिकायत की थी कि तहसील में तैनात रजिस्टार कानूनगो बनवारी लाल काम कराने के लिए 10 हजार रुपए की मांग कर रहा था। ‌जिसके बाद विजिलेंस टीम ने बहुत ही गुप्त तरीके से प्लान बनाकर आज तहसील परिषद में ही रिश्वत लेते हुए रजिस्ट्रार कानूनगो बनवारीलाल को अरेस्ट कर लिया। बता दें कि रजिस्ट्रार कानूनगो बनवारी लाल कि पहले भी कई लोगों ने काम के बदले रुपए मांगने की शिकायत की थी। आखिरकार आज यह भ्रष्टाचारी अफसर जाल में फंस गया।