आज योगी संग 47 मंत्री लेंगे शपथ

जनादेश/लखनऊ: योगी आदित्यनाथ आज दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसके साथ ही वह प्रदेश के पहले ऐसे मुख्यमंत्री बन जाएंगे, जो पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद दोबारा सत्ता संभालेंगे। गुरुवार को योगी आदित्यनाथ ने सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया। योगी आदित्यनाथ आज शाम चार बजे अटल बिहारी वाजपेयी क्रिकेट स्टेडियम भव्य समारोह में शपथ लेंगे।

मंत्रिमंडल से पूर्वांचल की जातीय सियासत को साधने की होगी कवायद

तमाम मिथक और रिकार्ड तोड़कर दोबारा सत्ता में आई प्रदेश की योगी सरकार के शुक्रवार को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह पर पूर्वांचल की खास निगाह टिकी है। कई सीटों के नुकसान के बाद अब यहां सरकार मंत्रिमंडल के जरिए पूर्वांचल की जातीय सियासत को भी साधने की पूरी कोशिश करेगी। फिलहाल पूर्वांचल के 10 जिलों से दस से ज्यादा विधायकों के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ शपथ लेने की उम्मीद है। इसमें वाराणसी के चार विधायकों में दो को कैबिनेट, एक को स्वतंत्र प्रभार और एक को राज्यमंत्री का तोहफा मिल सकता है।
उप मुख्यमंत्री की नहीं हुई घोषणा
भाजपा विधायक दल की बैठक में उप मुख्यमंत्री को लेकर घोषणा नहीं की गई है। 2017 में योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद योगी ने सरकार में सहयोग के लिए दो उप मुख्यमंत्री नियुक्त करने का प्रस्ताव रखा था। उसके बाद केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा को उप मुख्यमंत्री नियुक्त किया गया था। गुरुवार को विधायक दल की बैठक में उप मुख्यमंत्री की घोषणा को लेकर कयास लगाए जा रहे थे। लेकिन पार्टी ने फिलहाल उप मुख्यमंत्री को लेकर सस्पेंस बरकरार रखा है।
चाय पर बुलाए जाने की चर्चा
चर्चा है कि योगी आदित्यनाथ शपथ लेने वाले मंत्रियों को शुक्रवार सुबह अपने सरकारी आवास पर चाय पर बुला सकते हैं।
ये नए चेहरे भी पा सकते हैं मौका
अरविंद कुमार शर्मा, असीम अरुण, राजेश्वर सिंह, अश्वनी त्यागी, शलभमणि त्रिपाठी, राजेश त्रिपाठी, ब्रजेश सिंह रावत, दयाशंकर सिंह, राजेश चौधरी, दीनानाथ भास्कर, और प्रतिभा शुक्ला।
इन महिलाओं को भी मिल सकती है जगह
नीलिमा कटियार, गुलाब देवी, डॉ. सुरभि, अंजुला माहौर, केतकी सिंह, प्रतिभा शुक्ला, अनुपमा जायसवाल, अदिति सिंह और सरिता भदौरिया।
आशीष पटेल और संजय निषाद की भी चर्चा
योगी मंत्रिमंडल में अपना दल (एस) के आशीष पटेल और निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद भी मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। निषाद पार्टी और अपना दल से एक-एक राज्यमंत्री भी बनाया जा सकता है।
थोड़ी देर में अटल स्टेडियम पहुंचेंगे योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ शपथ ग्रहण की तैयारियों का जायजा लेने के लिए कुछ ही देर में अटल स्टेडियम पहुंचेंगे। स्टेडियम में इस वक्त तैयारियां अंतिम चरण में हैं।
इन पुराने चेहरों को फिर मिल सकता है मौका
स्वतंत्रदेव सिंह, सुरेश खन्ना, सतीश महाना, सिद्धार्थनाथ सिंह, श्रीकांत शर्मा, जय प्रताप सिंह, ब्रजेश पाठक, लक्ष्मीनारायण चौधरी, आशुतोष टंडन, भूपेंद्र चौधरी, अनिल राजभर, कपिल देव अग्रवाल, अशोक कटारिया, रविंद्र जायसवाल, अतुल गर्ग, मोहसिन रजा, बलदेव सिंह औलख, गिरीश चंद्र यादव, संदीप सिंह और जयकुमार जैकी। इनके अलावा पूर्व मंत्री जीएस धर्मेश, रमाशंकर पटेल, दिनेश खटीक, संजीव गोंड को भी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है।
युवाओं की ऊर्जा, महिला शक्ति और अनुभव का संगम होगा योगी मंत्रिमंडल
प्रदेश की नई सरकार का मंत्रिमंडल युवाओं की ऊर्जा, महिलाओं की शक्ति और दिग्गज नेताओं के अनुभव का संगम होगा। उत्तर प्रदेश को देश की नंबर एक अर्थव्यवस्था वाला राज्य और देश में सबसे अधिक प्रति व्यक्ति आय वाला राज्य बनाने के संकल्प के साथ प्रदेश की नई सरकार शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में शपथ लेगी। मंत्रिमंडल के जरिये भाजपा की कोशिश मिशन 2024 के तहत क्षेत्रीय संतुलन के साथ सामाजिक समीकरण साधने की भी होगी।
योगी आज लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ
योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों की मौजूदगी में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। योगी के साथ करीब 47 मंत्री भी शपथ ले सकते हैं। इकाना स्टेडिमय में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल योगी और मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगी। यूपी में बीते 37 वर्षों में पहला मौका होगा जब किसी एक दल की सरकार दोबारा सत्ता संभालेगी।
योगी सर्वसम्मति से गुरुवार को चुने गए विधायक दल के नेता
गुरुवार शाम लोक भवन में भाजपा विधायक दल के नेता के चुनाव के लिए केंद्रीय पर्यवेक्षक गृहमंत्री अमित शाह, सह पर्यवेक्षक राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास, चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और संगठन प्रभारी राधामोहन सिंह की मौजूदगी में एनडीए के विधानमंडल दल की बैठक हुई। भाजपा के वरिष्ठ विधायक सुरेश खन्ना ने योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुनने का प्रस्ताव रखा। सूर्य प्रताप शाही, बेबीरानी मौर्य, नंदगोपाल गुप्ता नंदी, राम नरेश अग्निहोत्री और सुशील शाक्य ने प्रस्ताव का समर्थन किया। इसके बाद योगी को सर्वसम्मति से भाजपा विधायक दल का नेता चुन लिया गया। अपना दल (एस) के आशीष पटेल और निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद ने भी योगी के नेतृत्व को समर्थन देने की घोषणा की।
आज से योगीराज 2.0: योगी संग 47 मंत्री लेंगे शपथ, डिप्टी सीएम पर सस्पेंस बरकरार; देखिए संभावित मंत्रियों के नाम
भाजपा के विधानमंडल दल की बृस्पतिवार को लोकभवन में हुई बैठक में योगी आदित्यनाथ को सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुन लिया गया विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद योगी ने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के समक्ष 273 विधायकों के समर्थन से सरकार बनाने का दावा पेश किया। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के राजनीतिक इतिहास में योगी आदित्यनाथ के नाम एक रिकार्ड दर्ज हो गया। योगी एक मात्र ऐसे मुख्यमंत्री होंगे जो अपना पांच वर्ष कार्यकाल पूरा करने के बाद दोबारा मुख्यमंत्री बनेंगे।
https://www.youtube.com/watch?v=JXuGHOsItT8