संबंध नहीं बनाने पर महिला खिलाड़ी को टीम से निकालने की धमकी

जनादेश/मुंबई: महाराष्ट्र के अकोला में एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया हैमीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोच ने पहले कबड्डी खिलाड़ी को धोखा दिया, फिर उसका यौन शोषण किया और उसे गर्भवती कर दिया इस मामले में, अदालत ने कोच को दोषी ठहराया था क्योंकि प्रतिवादी के खिलाफ सबूत मिले। अदालत ने प्रतिवादी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। आरोपी कोच का नाम शुद्धोधन सहदेव अंभोरे है और उन पर एक महिला खिलाड़ी के साथ यौन दुराचार के गंभीर आरोप लगे हैं।

कोच ने खिलाड़ी को राज्य और राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी के रूप में विकसित करने की कसम खाई थी। मामला 30 जुलाई 2018 का है। पीड़िता ने अपनी शिकायत में बताया है कि आरोपी कोच ने उसे शारीरिक संबंध बनाने की धमकी दी थी। महिला ने सरकारी अस्पताल में बच्ची को जन्म भी दिया, लेकिन अस्पताल स्टाफ को शक था कि खिलाड़ी सिंगल मदर बन गई है। अस्पताल ने तुरंत पुलिस को सूचना दी और खिलाड़ी से पूछताछ के बाद पूरे मामले का खुलासा हुआपुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है।

आरोपी ट्रेनर ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि यह बच्चा उनका नहीं है। पुलिस ने आरोपी का डीएनए टेस्ट किया, जिससे साफ हो गया कि बच्ची का पिता आरोपी ट्रेनर है। एक अन्य खिलाड़ी के यौन शोषण के मामले में अदालत ने प्रतिवादी को दोषी पाया है। अदालत ने प्रतिवादी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई और 3.10 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया।वहीं, एक अन्य कबड्डी खिलाड़ी के यौन शोषण के मामले में आरोपी कोच शुद्धोधन अंभोरे को धारा 354 के तहत 5 साल और धारा 506 के तहत 2 साल की सजा सुनाई गई है