अंकिता हत्याकांड के दोषियों को मिलनी चाहिए कठोर सजा

जनादेश/ऋषिकेश: युवा न्याय संघर्ष समिति का कोयलघाटी में धरना 7वें दिन भी जारी रहा। प्रदर्शनकारी अंकिता हत्याकांड के आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने की मांग कर रहे हैं।

बुधवार को कोयल घाटी में युवा न्याय संघर्ष समिति का धरना 7वें दिन भी जारी रहा। प्रदर्शनकारी अरविंद हटवाल ने कहा कि जब तक अंकिता के हत्यारों को फांसी की सजा नहीं मिल जाती, आंदोलन जारी रहेगा। यूकेडी के केंद्रीय मीडिया प्रभारी शिवप्रसाद सेमवाल ने कहा कि फेक्ट फाइंडिंग कमेटी बनाकर स्वतंत्र रूप से भी जांच कर रहे हैं तथा तथ्यों को उजागर करते रहेंगे। एआईसीसी सदस्य जयेन्द्र रमोला ने कहा कि भाजपा राज में कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ रही है। अंकिता हत्याकांड, भर्ती घोटाले जैसे कृत्य सामने आ रहे हैं। इन सभी मामलों में जल्द कार्यवाही होनी चाहिए। धरना देने वालों में प्रमोद डोभाल, जितेन्द्र पाल पाठी, दिनेश बहुगुणा, जया डोभाल, संगीता उनियाल, संतला देवी, सरोजिनी थपलियाल, उषा चौहान, शीला ध्यानी, मधु जोशी, सुमन चमोली, राजेंद्र कोठारी, जयेंद्र रमोला, हरि सिंह नेगी, प्रवीण जाधव, विजयपाल सिंह रावत, राकेश डोभाल, कांता प्रसाद कंडवाल, देवी प्रसाद व्यास, भगवती देवी, कमलेश शर्मा, विनोद रतूड़ी, जुगल किशोर, विकास अग्रवाल, राजकुमार गुप्ता, शिव प्रसाद सेमवाल, मोहन सिंह असवाल, कमल किशोर थपलियाल, राहुल जखमोला, गुरविंदर सिंह आदि शामिल रहे।