सोशल डिस्टन्सिंग को किया जा रहा है अनदेखा,आदेशों की उड़ाई जा रही धज्जियां

रायवाला। लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी के मामले में पुलिस ने ठेका देसी शराब के मैनेजर और दो सेल्समेन को गिरफ्तार किया है। उक्त लोगों पर ठेके में अनावश्यक भीड़ लगवाने और सेनेटाइजेशन की व्यवस्था नहीं करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। इन लोगों के खिलाफ पहने भी अवैध शराब बिक्री के आरोप में केश दर्ज किया जा चुका है।

रायवाला पुलिस के मुताबिक शनिवार सुबह सूचना मिली कि रायवाला देशी शराब के ठेके पर लोगों की भीड़ लगी है। ठेके पर नियुक्त मैनेजर और दो सेल्समेन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करा रहे। अनावश्यक भीड़ के चलते कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है। यही नहीं संक्रमण से बचाव को सेनेटाइजेशन की भी व्यवस्था नहीं है। सूचना पर हरकत में आयी पुलिस देसी शराब ठेके पहुंची। आरोप की पुष्टि होने पर पुलिस ठेका मैनेजर और दो सेल्समेन को गिरफ्तार कर थाने ले आयी। थाना प्रभारी हेमंत खंडूड़ी ने बताया कि ठेका संचालक को पहले भी लॉकडाउन अवधि में नियमों का पालन नहीं कराने पर नोटिस जारी किया गया था।

शनिवार को सोशल डिस्टेंसिंग उल्लंघन में ठेका मैनेजर अनिल सिंह पुत्र राम सिंह निवासी ग्राम नगरिया, सिहानी, अलीगढ़, उत्तरप्रदेश, सेल्समेन विकास जायसवाल पुत्र राजाराम जायसवाल निवासी ग्राम मनोहर खैराबाद,सीतापुर,उत्तरप्रदेश और गजेंद्र सिंह पुत्र दरोगा सिंह निवासी ग्राम औरेया, उत्तरप्रदेश के खिलाफ राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 एवं महामारी रोग अधिनियम 1887 के तहत मुकदमा दर्ज किया है।