सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को किया ढेर

जनादेश/श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने शुक्रवार रात से 4-5 अलग-अलग स्थानों पर आतंकवादियों के खिलाफ अभियान में चार आतंकियों को ढेर कर दिया है जबकि एक आतंकी को जिंदा पकड़ा है। पुलवामा में मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों का सफाया कर दिया है। गांदरबल और हंदवाड़ा में भी एक-एक आतंकी मारा जा चुका है। एक आतंकी को गिरफ्तार कर लिया गया है। हंदवाड़ा और पुलवामा में मुठभेड़ समाप्त हो चुकी है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, पुलवामा मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए हैं। गांदरबल में मुठभेड़ जारी है।
हंदवाड़ा और पुलवामा में मुठभेड़ समाप्त- कश्मीर आईजीपी
कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा कि शुक्रवार रात हमने 4-5 स्थानों पर संयुक्त अभियान शुरू किया था। अब तक पुलवामा में एक पाकिस्तान समेत जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी व गांदरबल और हंदवाड़ा में लश्कर-ए-तैयबा के एक-एक आतंकी को मारा जा चुका है। पुलवामा में मारा गया पाकिस्तानी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर कमाल भाई है, जो साल 2018 से एक्टिव था। हंदवाड़ा और पुलवामा में मुठभेड़ समाप्त हो चुकी है। एक आतंकवादी को गिरफ्तार भी किया गया है।
इससे पहले कुलगाम जिले के अडूरा गांव में शुक्रवार की शाम आतंकियों ने एक सरपंच के घर पर हमला कर उनकी हत्या कर दी। आतंकियों ने पास से गोली मारी, जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गए। तत्काल उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन उन्होंने रास्ते में दम तोड़ दिया। शब्बीर की पत्नी भी अडूरा के वार्ड तीन से पंच हैं। घटना के बाद पूरे इलाके में सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान चलाया, लेकिन आतंकियों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा। आतंकी इस महीने अब तक तीन पंचायत प्रतिनिधियों की हत्या कर चुके हैं।
पुलिस ने बताया कि शाम 8.50 बजे अडूरा गांव में पहुंचे आतंकियों ने सरपंच शब्बीर अहमद मीर को निशाना बनाकर फायरिंग की। इसमें वह गंभीर रूप से घायल होकर गिर पड़े। इसके बाद आतंकी धमकी देते हुए भाग निकले। घटना के बाद परिवार वालों ने तत्काल उन्हें कुलगाम जिला अस्पताल पहुंचाया, लेकिन उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मुजफ्फर ने बताया कि सरपंच को पेट में गोली लगी थी। अस्पताल में उन्हें मृत अवस्था में लाया गया था। घटना के बाद सुरक्षा बलों के वरिष्ठ अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी हासिल की। आसपास के इलाकों को घेरकर सर्च ऑपरेशन चलाया गया।
नौ दिन में कुलगाम में दो व श्रीनगर में एक नुमाइंदे को बनाया निशाना
आतंकियों ने इस महीने अब तक तीन पंचायत प्रतिनिधियों की हत्या कर दी है। इससे पहले नौ मार्च को श्रीनगर के खोनमुह में आतंकियों ने घर में घुसकर पीडीपी सरपंच समीर अहमद भट की हत्या कर दी थी। दो मार्च को कुलगाम जिले के कुलपोरा सरांड्रो इलाके में निर्दलीय पंच मोहम्मद याकूब डार की गोली मारकर आतंकियों ने हत्या कर दी थी। उन्हें घर के  बाहर नजदीक से गोलियां मारी गई थीं। कश्मीर के भाजपा मीडिया प्रभारी मंजूर भट ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि इस प्रकार के हमलों के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए।
https://www.youtube.com/watch?v=CoKzoJ5vMPU