संजीव कौशल ने गुरुग्राम मंडल के विज़न डॉक्युमेंट बनाने की चर्चा

जनादेश//चंडीगढ़:  मुख्य सचिव संजीव कौशल शनिवार को गुरुग्राम पहुंचे और गुरुग्राम मंडल से संबंधित जिलों के उपायुक्तों के साथ बैठक कर अपने जिले का विजन दस्तावेज तैयार किया, जिसमें उन्होंने कहा कि यह विजन दस्तावेज ऐसा होना चाहिए जिससे काम हो सके अपने जिले में प्राथमिकता निर्धारित करने वाली सूची बनाएं। इसमें लघु अवधि से लेकर दीर्घ अवधि तक पूरे होने वाले कार्य शामिल हों। कुछ कार्य जो 3 महीने में हो सकते हैं, तो कुछ कार्य 6 महीने की अवधि में और कुछ कार्य एक साल में या उससे ज्यादा समय में पूरे करवाए जा सकते हों।

कौशल ने कहा कि परियोजनाओं की योजना बनाते समय प्रत्येक चरण या स्तर के लिए उदारतापूर्वक समय सीमा निर्धारित करें, लेकिन उस योजना को लागू करते समय निर्धारित समय सीमा का कड़ाई से पालन करें ताकि परियोजना निर्धारित समय अवधि में पूरी हो और कोई समस्या न हो। बेवजह देरी न करें।बैठक में अपने अनुभव साझा करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि विजन पेपर तैयार करने का विचार उन्हें राज्यों के मुख्यमंत्रियों और मुख्य सचिवों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के भाषण से आया था। उसने कहा कि जब वह डीसी की नौकरी पर होता है, तो वह सारा दिन व्यस्त रहता है,लेकिन इतनी हलचल के बावजूद आपको अपने जिले में कुछ करना है, यहां से जाने के बाद आप खुद पर गर्व महसूस कर सकते हैं यह याद करते हुए कि मैं यहां काम करते हुए यह अच्छा बदलाव लाने में सक्षम था।