राहुल गांधी ने कहा- सत्ता के केंद्र में पैदा हुआ

जनादेश/नई दिल्ली: दिल्ली में एक बुक लॉन्च के दौरान कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा कि हमें संविधान की रक्षा करनी है। संविधान को बचाने के लिए हमें अपनी संस्थाओं की रक्षा करनी होगी। लेकिन सारी संस्थाएं आरएसएस के हाथ में हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि संस्था के बिना संविधान अर्थहीन है। मैंने एक बार एक भाजपा नेता से पूछा था कि क्या वह पुनर्जन्म में विश्वास करते हैं। यदि नहीं तो राम पर भरोसा कैसे करोगे? कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि मायावती चुनाव के लिए खड़ी भी नहीं हुईं। हमने मायावती को गठबंधन बनाने और मुख्यमंत्री बनने का संदेश दिया। वह बोला तक नहीं।

जिन्होंने अपना खून, पसीना बहाया और उत्तर प्रदेश में दलितों की आवाज बुलंद की। आज मायावती कहती हैं कि मैं उस आवाज के लिए नहीं लड़ूंगी। राहुल ने कहा कि देश ने मुझे सिर्फ प्यार ही नहीं दिया, बल्कि जिस हिंसा से इस देश ने मुझे मारा है, मैंने सोचा कि ऐसा क्यों हो रहा है? और जवाब मिला कि देश मुझे सिखाना चाहता है। देश मुझे कह रहा है कि तुम सिखो, समझो। राहुल ने कहा कि ऐसे राजनेता हैं जो सत्ता की मांग कर रहे हैं। वे हर समय सत्ता पाने पर विचार करते हैं मैं सत्ता के केंद्र में पैदा हुआ था लेकिन ईमानदारी से, मुझे उसमें कोई दिलचस्पी नहीं है। इसके बजाय, मैं देश को समझने की कोशिश करता हूं।