एलटी भर्ती परीक्षा पर उठे सवालों ने बढाई शिक्षा विभाग की चिंता

जनादेश/डेस्क: उत्तराखंड में घोटालों के मामले खत्म होनें का नाम नहीं ले रहे हैं। हाल ही में एलटी भर्ती परीक्षा पर भी गड़बड़ी के सवाल उठे शुरू हो गए हैं। जिसनें अब शिक्षा विभाग की चिंता को बढ़ा दिया है। दरअसल, शिक्षा विभाग को उम्मीद थी कि एलटी भर्ती प्रकिया पूरी होने के बाद गढ़वाल मंडल के पहाड़ी जिलों में शिक्षकों की कमी दूर जाएगी। लेकिन इस भर्ती प्रकिया में उठ रहे सवालों से शिक्षा विभाग की उम्मीदों पर भी पानी फिर सकता है, जिससे प्रदेश में शिक्षकों की कमी काफी लंबे समय तक बरकरार रह सकती है।

वहीं मामले पर गढ़वाल मंडल के अपर निदेशक माध्यमिक शिक्षा महावीर बिष्ट ने कहा कि पहाड़ी जिले में खासतौर में शिक्षकों की भारी कमी है। जिस पर आये दिन छात्र शिक्षकों की कमी का खामियाजा भुगत रहे हैं। एलटी भर्ती प्रकिया विवादों में घिरी तो शिक्षकों की कमी से जूझ रहे विद्यालयों को शिक्षकों के लिये लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। उन्होनें आगे कहा कि शिक्षकों की कमी जल्द दूर हो पाए, इसके लिए उन्होंने शिक्षा विभाग के निदेशक को पत्र लिखा है। हालांकि UKSSSC पेपर लीक के मामले का खुलासा हुआ है। कयास लगाए जा रहे हैं कि प्रदेश में पुलिस भर्ती और एलटी भर्ती में भी गड़बड़झाला हो सकता है, जिसको देखते हुए अभी से इन विभागों की टेंशन बढ़ गयी है।