पंजाब किंग्स ने चेन्नई को 54 रन से हराया

जनादेश/ मुंबई: इंडियन प्रीमियर लीग  के रोमांचक मुक़ाबले में पंजाब किंग्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 54 रन से हरा दिया है। यह चेन्नई सुपरकिंग्स की लगातार तीसरी हार है। चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला लिया था। ऐसे में बल्लेबाजी करते हुए पंजाब किंग्स ने चेन्नई को 181 रन का लक्ष्य दिया। शुरुआती झटके लगने के बावजूद पंजाब ने 180 रन की पारी खेली थी जिसका फ़ायदा गेंदबाज़ों को हुआ। इस दौरान लिविंगस्टोन ने 32 गेंद में 60 रन की धमाकेदार पारी खेली।

चेन्नई की लगातार तीसरी हार

बल्लेबाज लियाम लिविंगस्टोन के अर्धशतक और उनकी शिखर धवन के साथ तीसरे विकेट के लिये 95 रन की भागीदारी से पंजाब किंग्स शुरूआती झटकों से उबरने के बावजूद रविवार को यहां  लीग मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आठ विकेट पर 180 रन ही बना सकी। पंजाब किंग्स की वापसी में लिविंगस्टोन  की भूमिका काफी महत्वपूर्ण रही। पंजाब किंग्स की टॉस गंवाने के बाद बल्लेबाजी काफी खराब हुई। उसने पारी की दूसरी ही गेंद पर कप्तान मयंक अग्रवाल का विकेट गंवा दिया जो मुकेश चौधरी की बाहर जाती गेंद पर बल्ला छुआकर कवर में खड़े रॉबिन उथप्पा को आसान कैच दे बैठे। टीम अभी इस झटके से उबर भी नहीं सकी थी कि भानुका राजपक्षे  आउट हो गये जिसमें सीएसके के विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी की चपलता देखने लायक थी।

राजपक्षे ने आउट होने से पहले क्रिस जोर्डन की गेंद को फाइन लेग पर छक्के के लिये भेजा था। धवन  और लिविंगस्टोन ने पहले संभलकर बल्लेबाजी की। फिर पांचवें ओवर मे लिविंगस्टोन ने मुकेश चौधरी की गेंदों पर दो छक्के और तीन चौके जड़ दिये। उनके दूसरे छक्के से पहले ही टीम ने 50 रन पूरे कर लिये थे।   लिविंगस्टोन से प्रेरित होकर धवन ने भी हाथ खोलते हुए अगले ओवर में ड्वेन ब्रावो  पर लांग ऑन में छक्का लगाने के बाद अगली गेंद को कवर पर चौके के लिये भेजा। उन्होंने इस ओवर का समापन फाइन लेग पर चौका लगाकर किया।

कप्तान जडेजा फिर हुये फ्लॉप

 कप्तान जडेजा सातवें ओवर में गेंदबाजी करने आये जिनकी पहली गेंद को लिविंगस्टोन ने लांग ऑफ पर छक्के के लिए भेज दिया। टीम ने इसी ओवर में लिविंगस्टोन को आउट करने का मौका भी गंवा दिया जब अंतिम गेंद पर अंबाती रायुडू के हाथों से उनका कैच छूट गया। लेकिन इसकी भरपायी रायुडू ने 11वें ओवर में जडेजा की गेंद पर लिविंगस्टोन का ही कैच लपककर की। पर तब तक इस बल्लेबाज ने 32 गेंद की अपनी पारी में अपना काम पूरा कर दिया था। यह जडेजा का इस आईपीएल सत्र में पहला विकेट भी  रहा।