तीन दिवसीय गुजरात दौरे पर निकले प्रधानमंत्री मोदी

जनादेश/अहमदाबाद: भारतीय जनता पार्टी शासित गुजरात में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। मोदी शाम को गुजरात पहुंचेंगे और मेहसाणा जिले के मोढेरा गांव में करीब 3,900 करोड़ रुपये की कई परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास करेंगे। वह मोढेरा को चौबीसों घंटे सौर ऊर्जा से चलने वाला भारत का पहला गांव भी घोषित करेंगे। प्रधानमंत्री मोधेश्वरी माता मंदिर में पूजा-अर्चना करने के साथ ही मोढेरा के सूर्य मंदिर में दर्शन करने भी जाएंगे। एक आधिकारिक बयान में बताया गया है, ‘मोदी मोढेरा को 24×7 सौर ऊर्जा से चलने वाला भारत का पहला गांव घोषित करेंगे। अपनी तरह की यह पहली परियोजना मोढेरा शहर के सौरकरण के मोदी के दृष्टिकोण को साकार करती है, जहां सूर्य मंदिर स्थित है।’ बताया जा रहा है की इस परियोजना के तहत जमीन पर एक सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित किया गया है और आवासीय व सरकारी इमारतों की छतों पर 1,300 से अधिक सौर पैनल लगाए गए हैं, जो एक बैटरी ऊर्जा संरक्षण प्रणाली के जरिए आपस में जुड़े हुए हैं। बयान में कहा गया है कि यह परियोजना दर्शाएगी कि कैसे भारत की अक्षय ऊर्जा क्षमता जमीनी स्तर पर लोगों को सशक्त बना सकती है। बयान के मुताबिक, ‘प्रधानमंत्री सोमवार को भरूच जिले के आमोद में होंगे, जहां वह 8,000 करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। वह सोमवार को अहमदाबाद में जरूरतमंद छात्रों के लिए बनाए गए शैक्षिक परिसर ‘मोदी शैक्षिक संकुल’ के पहले चरण का उद्घाटन भी करेंगे। यह परियोजना छात्रों को समग्र विकास के लिए विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध कराएगी।’ इसमें बताया गया है, ‘सोमवार शाम को मोदी जामनगर में 1,460 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास करेंगे। वह मंगलवार को राजकोट जिले के जामकंदोरना में एक सभा को संबोधित करेंगे।’ बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में 1,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास भी करेंगे। बयान में बताया गया है कि मंगलवार को मोदी मध्य प्रदेश के उज्जैन पहुंचेंगे, जहां वह ‘महाकाल लोक’ का उद्घाटन करेंगे। ‘महाकाल लोक’ महाकालेश्वर मंदिर जाने वाले तीर्थयात्रियों को आधुनिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए तैयार परियोजना है। इसका मकसद पूरे क्षेत्र में भीड़भाड़ कम करना और विरासत संरचनाओं के संरक्षण व रखरखाव पर विशेष जोर देना है। ‘महाकाल लोक’ परियोजना के तहत महाकालेश्वर मंदिर परिसर का करीब सात गुना विस्तार किया जाएगा।