मणिपुर चुनाव: प्रत्याशियों के चुनावी भाग्य का होगा फैसला

जनादेश/इंफाल: मणिपुर विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू हुई। गुरुवार को कड़े सुरक्षा उपायों और COVID-19 प्रोटोकॉल के सख्त अनुपालन के बाद। राज्य की 60 विधानसभा सीटों के लिए दो चरणों में 28 फरवरी और 5 मार्च को मतदान हुआ था भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, नेशनल पीपुल्स पार्टी और जनता दल (यूनाइटेड) के उम्मीदवारों सहित 265 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला पूर्वोत्तर राज्य के 12 समर्पित केंद्रों पर जारी मतगणना में होगा। वोट के बाद के चुनावों में, भाजपा को राज्य में 23 से 43 सीटें जीतने की संभावना है, जबकि कांग्रेस को 17 सीटें जीतने का अनुमान है।

एक चुनाव अधिकारी ने कहा, ‘‘मतगणना डाक मतपत्रों की गिनती के साथ सुबह आठ बजे शुरू हो गई। इसके बाद मतगणना के लिए अधिसूचित 41 सभागारों में सुबह साढ़े आठ बजे ईवीएम के जरिए डाले गए मतों की गिनती आरंभ होगी।’’ मणिपुर के मुख्य चुनाव अधिकारी राजेश अग्रवाल ने पहले कहा था कि जिला चुनाव अधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को इस दौरान व्यापक सुरक्षा व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। मतगणना की पूरी प्रक्रिया की निगरानी निर्वाचन अधिकारियों के अलावा 41 सामान्य पर्यवेक्षक करेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी टी किरणकुमार ने बताया कि कुल 3,80,480 मतों में से मतदान केंद्रों पर ईवीएम के जरिए 3,45,481 वोट पड़े।