राजधानी में लेन ड्राइविंग आज से शुरू 

जनादेश/नई दिल्ली: राजधानी में शुक्रवार से बसों और माल ढुलाई करने वाले वाहनों को तयशुदा लेन में चलना होगा। फिलहाल 15 दिन के लिए इस श्रेणी के वाहनों पर यह नियम अनिवार्य होगा। इसके बाद सभी प्रकार के वाहनों पर यह नियम लागू कर दिया जाएगा। डीटीसी और क्लस्टर बसें स्टॉप पर बनाए गए बॉक्स के अंदर ही रुकेंगी। नियमों की अनदेखी करने पर बस चालकों पर कार्रवाई होगी। परिवहन विभाग की इंफोर्समेंट टीम, डीटीसी और क्लस्टर व ट्रैफिक पुलिस की 50 टीमें लेन ड्राइविंग सुनिश्चित करने के लिए सड़कों पर रहेंगी। पहले चरण में बसों को खास तवज्जो दी जाएगी, ताकि लेन में चलने से वाहनों की आवाजाही को सुलभ बनाया जा सके।

हालांकि, लेन ड्राइविंग पर लागू होने वाली सख्ती के कारण सड़कों पर जाम की स्थिति बन सकती है। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक, बसों की सहूलियत के लिए लेन और बॉक्स बनाए गए हैं। निर्धारित लेन में ही उन्हें चलना होगा। इस दौरान अगर बसों के लिए तय लेन में कोई दूसरा वाहन खड़ा किया जाता है तो उसे क्रेन से खींचकर ले जाया जाएगा। विभागीय अधिकारियों ने आम लोगों से भी अपील की है कि लेन ड्राइविंग के लागू होने में सहयोग करें। बसों के लिए नियत लेन को छोड़कर चलें, ताकि ट्रैफिक प्रबंधन में दिक्कत न आए। परिवहन विभाग की ओर से पहले ही नियमों का उल्लंघन करने वालों को हिदायत दे दी है। पहली बार नियम तोड़ने पर 10 हजार रुपये का जुर्माना भरना होगा। बार-बार नियमों को तोड़ने वालों के लाइसेंस और परमिट रद्द करने सहित उन पर मामला भी दर्ज किया जा सकता है। बसों के लिए दिल्ली की सभी सड़कों पर पहले चरण में इसे लागू किया जा रहा है।