रूस में आज से इंस्टाग्राम पर प्रतिबंध

जनादेश/नई दिल्ली: रूस-यूक्रेन जंग का दंश पूरी दुनिया को झेलना पड़ रहा है। इसकी चपेट में बड़ी-बड़ी कंपनियां आ चुकी हैं। कई कंपनियों ने यूक्रेन पर रूसी आक्रमण का विरोध करते हुए वहां पर अपने कामकाज को पूरी तरह से रोक दिया है। इसके बाद अब रूस की ओर से भी धीरे-धीरे कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। क्रेमलिन ने रूस में इंस्टाग्राम के इस्तेमाल पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। यह प्रतिबंध आज यानि सोमवार से लागू हो गया है। इस नए आदेश के बाद रूस में आठ करोड़ से ज्यादा लोग पूरी दुनिया से कट गए हैं। रूस के यूजर्स का कहना है कि वे इंस्टाग्राम नहीं चला पा रहे हैं।
दो दिन पहले ही कर दी थी घोषणा
रूस की ओर से इंस्टाग्राम पर प्रतिबंध लगाए जाने की घोषणा दो दिन पहले ही कर दी गई थी। सरकार के इस निर्णय को इंस्टाग्राम प्रमुख एडम मॉसरी ने गलत बताया है। उनका कहना है कि, इस निर्णय से रूस के आठ करोड़ लोग एक दूसरे से दूर हो गए हैं। उन्होंने बताया कि रूस में इंस्टाग्राम का इस्तेमाल करने वाले 80 प्रतिशत लोग देश के बाहर इसका प्रयोग करते हैं। प्रतिबंध से ये सभी लोग अपनों से पूरी तरह कट गए होंगे।
क्यों उठाया रूस ने यह कदम
रूस की ओर से यह कदम तब उठाया गया है, जब फेसबुक(अब मेटा) ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को लेकर नियमों में बदलाव किया था। मेटा ने अपने बयान में कहा था कि, यूक्रेन पर रूसी आक्रमण का विरोध करते हुए वह हेड स्पीच पॉलिसी में बदलाव कर रहा है। इसके तहत रूस ने अपने यूजर्स को यह अनुमति दे दी कि वे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर पुतिन के खिलाफ खुल कर बोल सकते हैं।
मेटा को घोषित किया गया चरमपंथी संगठन
मेटा की ओर से पुतिन के खिलाफ किए गए नियमों के बदलाव को लेकर रूस ने भी कड़े कदम उठाए हैं। रूस ने इसका जवाब देते हुए मेटा को एक चरमपंथी संगठन घोषित कर दिया है।
https://www.youtube.com/watch?v=bnNW4bgDhK8