यूपी में आंधी तूफान से भारी नुकसान, बहराइच के मौलापुरवा गांव में लगी आग

लखनऊः उत्तर प्रदेश में रविवार शाम मौसम ने अचानक करवट ली। शाम पांच बजे करीब तेज हवाओं के साथ धूल भरी आंधी चलने लगी। तेज आंधी में कई जगह पेड़ गिरने से लोगों की मौत हो गई। वहीं बहराइच के मौलापुरवा गांव में कई घर आग में जलकर राख हो गए। सीएसआईआर की तरफ आई आंधी के दौरान पेड़ से दबकर कर्मचारी हंसराज रावत की मौत हो गई।
पराली जलाने से फैली आग 
बहराइच में रविवार को दोपहर बाद मौसम का मिजाज बदल गया। आसमान में काले बादल छा गए। 45 किमी प्रति घंटे की रफ्तार आए पश्चिमी चक्रवात में कई जगह पेड़ गिर गए। टीनशेड उजड़ गए। बिजली आपूर्ति ठप हो गई। खेत में जल रही पराली से भड़की आग में मौलापुरवा जलकर राख हो गया। सबसे ज्यादा नुकसान आम की फसल को हुआ।

मौसम वैज्ञानिक डॉ. एमवी सिंह ने बताया कि पश्चिमी चक्रवात सक्रिय हुआ है। आंधी के साथ सीमावर्ती क्षेत्रों में पांच मिली तक बारिश हुई है। शिवपुर ब्लॉक में किसानों की ओर से खेत में जलाई गई गेहूं की पराली से मौलापुरवा गांव पूरी तरह से जल गया। गांव के लोग बेबस आग में घर को जलते देखते रह गए। महसी, मिहीपुरवा, नानपारा, पयागपुर, कैसरगंज, जरवलरोड, फखरपुर, गजाधरपुर, बौंडी, रिसिया, रामगांव में कई जगह बिजली के खंभों पर पेड़ गिर जाने से बिजली आपूर्ति ठप हो गई।

तराई में मौसम ने रविवार को अचानक करवट ले ली। दिन भर तेज धूप के बाद शाम को आसमान में काले बादल छा गए। देखते ही देखते धूल भरी आंधी चलने लगी, जिससे आम की फसल को नुकसान पहुंचा है। मौसम वैज्ञानिकों ने आंधी व बारिश होने की संभावना जताई है।