Ganpati Visarjan 2022 Live: अनंत चतुर्दशी पर आज, मुंबई से पुणे तक गणपति विसर्जन के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

जनादेश/डेस्क: गणेश प्रतिमाओं की स्थापना अपनी मान्यता के अनुसार एक दिन से लेकर तीन दिन, पांच दिन, सात दिन और नौ दिन तक की जाती है। दसवें दिन यानी अनंत चतुदर्शी के मौके पर उनका विसर्जन किया जाता है। इस मौके पर कामना की जाती है कि लोक कल्याण के लिए हे गणनायक अगले बरस जल्दी आना।मुंबई और इंदौर समेत कई शहरों में इस मौके पर चल समारोह निकाले जा रहे हैं। मुंबई में बप्पा की विदाई पर जनसैलाब सड़कों पर उमड़ रहा है। धूमधाम से विशाल प्रतिमाओं को समुद्र तटों पर ले जाया जा रहा है। सभी भक्त नम आँखों के साथ अपने आराध्य को विदाई दे रहे हैं। वहीं सार्वजनिक गणेश मंडलों द्वारा भी गणेश विसर्जन की यात्रा शुरू की जा चुकी हैं। गणेश भक्तों से शहर की सड़कें भरी हुई हैं। मुंबई के राजा की भी विसर्जन यात्रा भी शुरू हो चुकी है।इस बार कोरोना से राहत के कारण दो साल बाद धूमधाम से यह पर्व मनाया गया। 31 अगस्त को गणेश चतुर्थी पर मूर्ति स्थापना के बाद 10 दिनों तक उनका हर्षोल्लास से पूजन किया गया।