ऋषिकेश के गंगा घाट पर एक साथ जली पांच चिताएं

जनादेश/डेस्क: देहरादून के रानीपोखरी के नागाघेर गांव में भयानक हत्याकांड की खबर सामने आई हैं। दरअसल एक शख्स ने परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी है। वहीं मंगलवार को सभी पांच शवों का ऋषिकेश के मुनिकीरेती स्थित गंगा घाट पर अंतिम संस्कार किया गया।

बता दें कि वहशी दरिंदे की हैवानियत के शिकार बनी दादी व मां के साथ तीन मासूम बेटियां भी एक साथ एक ही घाट पर पंचतत्व में विलीन हुई। यह मंजर जिसने भी देखा वो गमगीन हो गया।

जानकारी के लिए बता दें कि रविवार की सुबह रानीपोखरी थाना क्षेत्र के नागाघेर में एक व्यक्ति ने रसोई में सिलिंडर बदलने को लेकर हुए विवाद में अपनी मां, पत्नी तथा तीन बेटियों का गला काटकर मार डाला था।

इसके तहत पुलिस ने आरोपित महेश कुमार पुत्र दिनेश कुमार को घटनास्थल से ही गिरफ्तार कर लिया था जबकि मृतक बिट्टू देवी (75 वर्ष), नीतू देवी (36 वर्ष), अपर्णा (13 वर्ष) स्वर्णा उर्फ गुल्लू (11 वर्ष) और अन्नपूर्णा (नौ वर्ष) के शव पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए थे।

बताया जा रहा है कि पोस्टमार्टम के बाद सभी शवों को एम्स ऋषिकेश की मोर्चरी में लाया गया। और फिर सभी पांच शवों को अंतिम संस्कार के लिए मुनीकीरेती के पूर्णानंद घाट लाया गया। जहां हत्या आरोपी के सबसे छोटे भाई नरेश तिवारी ने अपनी मां, भाभी सहित तीनों भतीजियों को मुखाग्नि दी।