मुंबई में डॉक्टर पर कोरोना मरीज ने लगाया यौन शोषण का आरोप, घर में ही किया गया क्वारंटीन

मुंबई। देश में जहां कोरोना वायरस से जंग जारी है। वहीं भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई से एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे एक डॉक्टर पर यौन शोषण का आरोप लगा है। ये घटना मुंबई के वॉकहार्ट हॉस्पिटल की है।

आरोप है कि 34 साल के एक डॉक्टर ने 44 साल के एक पुरुष (मरीज) का यौन शोषण किया। इस डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। लेकिन कोरोना के डर से इसे अभी गिरफ्तार नहीं किया गया है। पुलिस को शक है कि ये डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव हो सकता है। ऐसे में उसे घर में ही क्वारनटाइन कर दिया गया है।

पीड़ित की तरफ से दर्ज कराई गई एफआईआर के मुताबिक, एक मई को सुबह के वक्त आरोपी डॉक्टर 10वें फ्लोर पर आईसीयू में दाखिल हुआ। अंदर जाते ही इसने पीड़ित को छूने की कोशिश की और फिर उसे सेक्सुअली असॉल्ट किया। मरीज ने उसे रोकने की कोशिश की लेकिन वो नहीं माना। तुरंत उसने अलार्म बजाया, जिससे हॉस्पिटल के स्टाफ वहां पहुंच गए और डॉक्टर ने उस मरीज को छोड़ दिया। डॉक्टर के खिलाफ आईपीसी की धारा 377, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अस्पताल प्रशासन के मुताबिक आरोपी ने हाल ही में मुंबई के एक मेडिकल कॉलेज से MD का कोर्स पूरा किया था। जिसे 30 अप्रैल को ड्यूटी ज्वाइन करवाई गई। वहीं एक मई को आरोपी ने घटना को अंजाम दिया। बताया जा रह है कि पिछले महीने यहां पर 80 कर्मचारी कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। जिसके बाद अस्पातल बंद कर दिया गया था। वहीं 23 अप्रैल को प्रशासन ने इसे दोबारा खोलने की अनुमति दे दी। एहतियात के तौर पर अस्पताल प्रशासन ने ज्यादा उम्र के डॉक्टर्स को ड्यूटी ज्वाइन करने से मना कर दिया।