श्रीकृष्ण के गांव में रंगोत्सव का उल्लास

जनादेश/मथुरा: मथुरा में राधारानी के गांव बरसाना के बाद शनिवार को श्रीकृष्ण के नंदगांव में लठामार होली का आनंद बरसेगा। इसे लेकर नंदगांव की हुरियारिनों ने शुक्रवार को ही अपनी तैयारियां पूरी कर लीं। हुरियारिनें सोलह शृंगार कर लठामार होली चौक पर पहुंचेंगी। नंदबाबा मंदिर के सेवायत वंशी गोस्वामी ने बताया कि तीन कुंतल टेसू के फूलों से 50 ड्रम प्राकृतिक रंग तैयार किया गया है। हुरियारों पर गुलाब के फूलों की पंखुड़ियां, टेसू के फूलों का रंग बरसाया जाएगा। विभिन्न प्रकार के फूलों से रंगोली सजाई जाएगी। यशोदा कुंड पर भांग ठंडाई से स्वागत किया जाएगा।
फगुआ मांगने के बहाने आएंगे हुरियारे 
बरसाना की लठामार होली के अगले दिन सखा स्वरूप ग्वाल (हुरियारे) नंदगांव में होली का फगुआ मांगने आएंगे। नंदभवन में बरसाना के हुरियारों का भव्य स्वागत किया जाएगा। अबीर-गुलाल की वर्षा और होली के गीतों के बीच नंदगांव की हुरियारिनें बरसाना के हुरियारों पर प्रेमपगी लाठियां बरसाएंगी। द्वापर युग की इस अनूठी परंपरा को लेकर हुरियारिनों में खासा उत्साह है। रंगीली गली और लठामार होली चौक पर आयोजन होगा। हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी देश-विदेशों से हजारों श्रद्धालु इस अद्वितीय लीला के साक्षी बनेंगे।
शुक्रवार को बरसाना में हुई थी लठामार होली 
शुक्रवार को नंदगांव के हुरियारे बरसाना की हुरियारिनों की लाठियों के वार को सहने के लिए हाथों में ढाल लिए घरों से निकले। धोती, बगलबंदी, पीतांबरी से सुसज्जित हुरियारे नंदभवन पहुंचे। यहां हुरियारों ने समाज गायन में भाग लिया। इसके बाद हुरियारों ने बुजुर्गों के पैर छुए और बरसाना जाकर होली खेलने की अनुमति मांगी। इसके बाद बरसाना में जाकर लठामार होली खेली। बरसाना की हुरियारिनों ने हुरियारों पर प्रेमपगी लाठियां बरसाईं। इस दौरान खूब हंसी-ठिठोली हुआ। रंग बरसे। हजारों लोग लठामार होली देखने बरसाना पहुंचे।
https://www.youtube.com/watch?v=kmTO6Hb0t0A