आलेख

दरिंदो को क्यों मिल रही तारीख पर तारीख

8 12 Views ब्रजेश सैनी — निर्भया के दरिंदो की फांसी कानून के फिर में फंस गई है तभी तो जज साहब गुनहगारों को तारीख पर तारीख दिए जा रहे है और निर्भया के परिवारजनों का सब्र टूट रहा है  एक बात समझनी होगी हमारे देश में  कानून का राज  चलता है और कानून  सबके […]

आलेख

इंदिरा गांधी और अटलबिहारी वाजपेयी की लोकप्रियता को लेकर बेशर्म सर्वे बेमतलब है?

34 12 Views अभय कुमार — अभी एक बेशर्म सर्वे आया है जिसमें बताया गया है कि देश की आजादी के बाद अब तक के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं, जबकि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी दूसरे नंबर पर और पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी तीसरे नंबर पर हैं? महान नेताओं को लेकर ऐसा सर्वे होना […]

आलेख

नागरिकता कानून का अंध-विरोध कर रहे लोगों की आंखें अब भी क्यों नहीं खुल रहीं

74 12 Views ललित गर्ग– आखिर पाकिस्तान में सताए जा रहे हिंदू, सिख आदि भारत की ओर नहीं निहारेंगे तो क्या अमेरिका, कनाडा, आस्ट्रेलिया से उम्मीद लगाएंगे ? कम से कम अब तो नागरिकता कानून के विरोधियों को उसके खिलाफ दुष्प्रचार फैलाने से बाज आना चाहिए। पाकिस्तान में गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमले की घटना […]

आलेख

आजकल चरित्र का नहीं केवल पैसा कमाने का पाठ पढ़ाया जाता है

66 12 Views अभय कुमार — अहंकार से परेशान लोगों की बड़ी दुनिया है, जहां दूसरों के अहंकार से परेशान लोग कम हैं और खुद के अहंकार से परेशान ज्यादा। बड़ी समस्या यह है कि हमें दूसरों का अहं तो दिखता है, लेकिन अपना नहीं। अपने भीतर का अहंकार देखें और अहंकारमुक्त होने का प्रयत्न […]

आलेख

मोदी के चक्र में पवार का व्यूह

106 12 Views अभय कुमार — ग्राउंड रिपोर्ट – भारत का महाराष्ट्र.देश की आर्थिक राजधानी.पैसा जिसके पास,पॉवर उसके पास.पवार जिसके साथ सत्ता की कुर्सी उनके साथ.जी हाँ,मराठा क्षत्रप शरद पवार ने ये साबित कर दिया है कि उनके जैसा कोई नहीं.उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ताले को अपनी चाबी से खोल दी. ऐसा लगता है […]

आलेख

महाराष्ट्र में राजनीतिक उजाला या काला धब्बा?

91 12 Views अभय कुमार — अपने अनूठे एवं विस्मयकारी फैसलों से सबको चैंकाने वाले नरेंद्र मोदी एवं भाजपा सरकार ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने की असमंजस्य एवं घनघोर धुंधलकों के बीच रातोंराज जिस तरह का आश्चर्यकारी वातावरण निर्मित करके सुबह की भोर में उसका उजाला बिखेरा वह उनके राजनीतिक कौशल का अद्भुत उदाहरण है. […]

आलेख

जलते टायरों के साथ भारत मे और भी बहुत कुछ जल रहा है !

100 12 Views अंजली राणा — भारत के नबीपुर गांव में जब रात घिरती है तो घर के पिछवाड़े में बनी भट्टी में टायर जलने लगते हैं, हवा गहरे काले धुएं से भर जाती है और आस पास की मिट्टी काजल से काली हो जाती है. यह टायर पश्चिमी देशों से आया कूड़ा है. ज्यादा […]

आलेख

क्या अपने ही दिए फैसले पर फिर फैसला दे सकते हैं जज?

53 12 Views अभय कुमार — “भारत की सर्वोच्च न्यायालय में इस वक्त एक अनोखा विवाद चल रहा है. पांच जजों की एक संविधान पीठ को ये फैसला करना है कि एक ही मुद्दे पर सर्वोच्च अदालत की ही दो अलग अलग पीठों द्वारा दिए गए विरोधी फैसलों में से कौन सा सही है.” इस फैसले करने से […]

आलेख

भारत रत्न की मांग पर उठा सियासी तूफान, सावरकर के साथ वीर जुड़ने की पूरी दास्तां

130 12 Views मालती मिश्रा — ” विनायक दामोदर सावरकर एक क्रांतिकारी, सामाजिक कार्यकर्ता, चिंतक, लेखक, कवि, वक्ता, राजनेता और दार्शनिक। सावरकर के कई रुप हैं, कुछ सब लोगों को लुभाते हैं और कुछ लोगों को रास नहीं आते हैं। उनके जीवन को लेकर तमाम तरह के मिथक हैं। “ विनायक दामोदर सावरकर, कुछ के […]

आलेख

अंधविश्वास एवं जादू-टोना की क्रूरताएं कब तक?

108 12 Views अभय कुमार — ओडीशा के गंजाम जिले के कुछ अंधविश्वासी लोगों ने वहां के छह बुजुर्ग व्यक्तियों के साथ जिस तरह का बर्ताव किया, उससे एक बार फिर यही पता चलता है कि हम शिक्षित होने एवं विकास के लाख दावे भले करें, लेकिन समाज के स्तर पर आज भी काफी निचले […]