टिकैत के गांव में भाजपा को जमकर मिले वोट

जनादेश/मुजफ्फरनगर: भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) की राजधानी सिसौली में भाजपा को खूब वोट मिले हैं। रालोद के प्रत्याशी राजपाल बालियान को 34 सौ और भाजपा के उमेश मलिक को सिसौली में 3171 वोट ही हासिल हो सके। सिर्फ 229 वोट से भाजपा को यहां हार का सामना करना पड़ा।

सिसौली भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत और प्रवक्ता राकेश टिकैत का गांव है। दिलचस्प बात यह है कि कस्बे की पट्टी लेपरान के बूथ संख्या-168 पर भाजपा को 521 और रालोद को सिर्फ 185 वोट मिले। अंबेडकर भवन के बूथ पर भाजपा को 297 और गठबंधन के राजपाल बालियान को 178 वोटों से ही संतोष करना पड़ा। मतदान के दिन भाकियू प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कहा था कि भाजपा की वोट कोक्को ले गई है, लेकिन टिकैत के गांव में सिर्फ 229 वोट का अंतर रहा। इससे पहले 2017 और 2019 में भी यहां भाजपा का दबदबा रहा था।

टिकैत के गांव में इस तरह हुआ चुनाव
बूथ        भाजपा        रालोद

162        391        295
163        239        341
164        230        432
165        210        345
166        162        521
167        232        367
168        521        185
169        139        272
170        141        266
171        407        149
172        202        49
173        297        178

यह कहा था राकेश टिकैत ने
भाकियू प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने देसी अंदाज में कहा था कि कोको भाजपा के वोट ले गई है। मुजफ्फरनगर में अब कोई झगड़ा नहीं कर सकता। यहां आमजन, राजनीतिक दलों की हर चाल को समझ रहे हैं। अपने मुद्दों पर मतदान कर रहे हैं। दंगे वाला स्टेडियम यहां नहीं खुल खुलने देंगे। मतदान के बाद पत्रकारों से बातचीत में टिकट ने कहा था कि सबसे जरूरी भाईचारा है। देश में आंदोलन जिंदा रहना चाहिए। सरकार को किसानों की मांग पूरी करनी चाहिए। चुनाव के सवाल पर कहा कि (कोको देसी भाषा में पक्षी को इंगित करने वाला शब्द) भाजपा की वोटों को ले गई है। किसान अपने मुद्दों पर मतदान कर रहा है। खेती पर लागत बढ़ गई है और किसान की आमदनी घट गई है। कहा कि मुजफ्फरनगर में भाईचारा कायम रहेगा, यहां कोई माहौल खराब नहीं कर सकता।