दिवाली से पहले ही जहरीली हुई आगरा की आबोहवा

जनादेश/डेस्क: दीवाली से पहले ताजनगरी आगरा की आवोहवा जहरीली हो गई है। लोगों की सांसों पर संकट है। खासतौर पर उन लोगों के लिए मुश्किल है जो अन्य बीमारियों से पहले ही ग्रसित हैं। दस दिन पहले तक शहर का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 24 था, लेकिन दस दिन में यह 100 के ऊपर पहुंच गया है। बृहस्पतिवार को व्यवसायिक स्थल संजय प्लेस में एक्यूआई 137 दर्ज किया गया। अगर ऐसे ही हालात बने रहे तो दिवाली तक प्रदूषण में कई गुना इजाफा हो सकता है।

सितंबर माह में शहर का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 50 के आसपास ही बना रहा। यदा कदा ही इसमें बढ़ोतरी हुई। सात से 10 सितंबर तक 24 एक्यूआई रहा। इसके बाद दिवाली के त्योहार की तैयारियां शुरू हुईं। घरों की साफ सफाई और बाजारों में गहमागहमी और वाहनों की संख्या बढ़ी। दो दिन पहले औसत एक्यूआई 120 तक पहुंचा था, लेकिन बृहस्पतिवार को औसत एक्यूआई 86 रहा, लेकिन संजय प्लेस में यह 137 तक पहुंच गया। अगर दिवाली से पहले प्रदूषण की रोकथाम के उपाय नहीं किए गए तो यह सेहत के लिए खतरा बनेगा। यूपीसीबी के क्षेत्रीय अधिकारी का कहना है कि प्रदूषण की रोकथाम के लिए निर्माण स्थलों पर निरंतर छिड़काव और अन्य उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं।

छह स्थानों पर दर्ज किया गया एक्यूआई 

संजय प्लेस – 137
मनोहरपुर 79
आवास विकास, सेक्टर तीन-75
शास्त्रीपुरम 74
रोहता – 83
शाहजहां गार्डन- 65
आगरा कैंट स्टेशन- 75