विशाखापट्टनम की सुबह खौफनाक, जहरीली गैस फैलने से 8 की मौत, 3000 लोग रेस्क्यू

गैस लीक का भयावह मंजर, सड़क पर ही गिरने लगे लोग, पीएम मोदी ने बुलाई एनडीएमए की बैठक

आंध्रप्रदेशः विशाखापट्टनम में गुरूवार की सुबह काल बनकर आई। यहां एक केमिकल प्लांट इकाई में आज सुबह गैस रिसाव होने से एक बड़ा हादसा हो गया है। गुरुवार तड़के लोगों की नींद एक अजीब बदबू के साथ खुली। अपने-अपने घरों के अंदर सोए लोगों के लिए अचानक सांस लेना दूभर होने लगा। इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता, 1 बच्चा समेत 3 लोगों की मौत हो चुकी थी। सेना ने करीब तीन हजार लोगों का रेस्क्यू किया है। जबकि अभी तक करीब आठ लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं पीएम मोदी ने हादसे की गंभीरता को देखते हुए एनडीएमए की बैठक हुई।

बता दें कि आरआर वेंकटपुरम में स्थित विशाखा एलजी पॉलिमर कंपनी से खतरनाक जहरीली गैस का रिसाव हुआ है। इस जहरीली गैस के कारण फैक्ट्री के तीन किलोमीटर के इलाके प्रभावित हैं। फिलहाल, पांच गांव खाली करा लिए गए। लोग खड़ें खड़े सड़क पर गिरने लगे।  सैकड़ों लोग सिर दर्द, उल्टी और सांस लेने में तकलीफ के साथ अस्पताल पहुंच रहे हैं। इस जहरीली गैस के कारण फैक्ट्री के तीन किलोमीटर के इलाके प्रभावित हैं।

सरकारी अस्पताल में 8 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 20 लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। इसमें अधिकतर बुजुर्ग और बच्चे हैं। बताया जा रहा है कि सरकारी अस्पताल में 150-170 लोग भर्ती कराए गए हैं। इसके अलावा कई लोगों को गोपालपुरम के प्राइवेट अस्पताल में भी भर्ती कराया गया है। 1500-2000 बेड की व्यवस्था कर ली गई है।हालांकि, गैस लीकेज के असली कारण का अभी पता नहीं चल पाया है।

 जिलाधिकारी वी विनय चंद मौके पर पहुंच  हालात प नजर बनाए हुए हैं। उनका कहना है कि दो घंटे के अंदर हालात को नियंत्रण में कर लिया गया। कुछ लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है, उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट दिया जा रहा है।

वहीं मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम जगन मोहन रेड्डी, गृह मंत्रालय और एनडीएमए के अधिकारियों से बात की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए है और हर संभव मदद की कोशिसश की जा रही है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने सबकी सुरक्षा और अच्छे सेहत की कामना की है।

वहीं, राहुल गांधी ने घटना पर अफसोस जाहिर करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की है। राहुल ने कहा, ‘मैं कांग्रेस कार्यकर्ताओं-नेताओं से अपील करता हूं कि वे प्रभावित लोगों को सभी जरूरी मदद करें. उन लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं, जो किसी अपने को खो चुके हैं। मैं प्रार्थना करता हूं कि अस्पताल में भर्ती शीघ्र स्वस्थ हों।’