26 जनवरी को हुई थी यह पहली परेड: तब न झांकियां थी, न करतब, आज उमड़ता है सैलाब; 73 साल में इतना उत्सव

जनादेश/दिल्ली: बैंड-बाजे, करतब, झांकियां और सैनिकों की परेड। ऐसा ही कुछ हर साल गणतंत्र दिवस पर देखने को मिलता है। लेकिन आप जानते हैं कि इन 73 सालों में गणतंत्र दिवस समारोह में कई बदलाव हुए हैं.

यह जानना महत्वपूर्ण है कि 26 जनवरी का पहला उत्सव कैसा था और पिछले कुछ वर्षों में यह कितना बदल गया है। ऊपर फोटो में देखिये