देश बिग ब्रेकिंग बिहार ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य सीवान होम

सिवान की सांसद कविता सिंह पर हमले की साजिश, असलहे के साथ पकड़े गए तीन अपराधी

141 12 Views
FB_IMG_1539317565939~2
Ansh
Ansh2
IMG-20200403-WA0004
IMG-20200513-WA0002

जनादेश/पटना: बिहार के सिवान संसदीय क्षेत्र से लोकसभा सदस्‍य कविता सिंह पर हमले की साजिश नाकाम हो गई है। पुलिस ने साजिश में शामिल कुछ अपराधियों को पकड़ लिया है। सिवान आपराधिक रूप से काफी संवेदनशील इलाका रहा है। राजद के बाहुबली नेता शहाबुद्दीन यहीं से चुनाव जीता करते थे। उन्‍हें निर्दलीय ओम प्रकाश यादव ने पहली बार चुनाव हरा दिया था। 2019 में यहां से जदयू की उम्‍मीदवार कविता सिंह ने जीत दर्ज की। कविता सिंह के पति भी बाहुबली माने जाते हैं।

हथियार के साथ अपराधी गिरफ्तार

सिसवन थाना क्षेत्र के नंदामुड़ा गांव स्थित सांसद के आवास पर जदयू सांसद कविता सिंह एवं उनके पति जदयू नेता अजय सिंह पर हमला करने करने की नीयत से आए तीन अपराधियों को हथियार के साथ सांसद के सुरक्षा गार्ड एवं स्थानीय लोगों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। गिरफ्तार अपराधी एमएचनगर थाना क्षेत्र के सिसवाकला गांव निवासी अवधेश सिंह का पुत्र राहुल सिंह, मनोज सिंह का पुत्र अभिषेक सिंह और डेरा राय के बंगरा निवासी कामेश्वर सिंह का पुत्र भानु प्रताप सिंह है। इनके पास से एक देसी कट्टा कारतूस सहित बरामद किया गया।

गुरुवार की शाम हुई हवाई फायरिंग

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। घटना के संबंध में सांसद पति अजय सिंह ने बताया कि गुरुवार की शाम सात बजे के करीब मैं और सांसद कविता सिंह अपने दालान के आगे बैठे थे, जहां कलश स्थापन हुआ है। उसी समय बोलेरो पर सवार चार-पांच लोग दालान वाले रास्ते से तेज रफ्तार से जा रहे थे, बोलेरो की तेज रफ्तार होने के कारण मैंने उन्हें तेज गति से गाड़ी चलाने से मना किया, तब भी वे लोग नहीं माने। इसके बाद उनलोगों को रोकने के लिए हवाई फायरिंग करनी पड़ी। तब वे लोग अपनी गाड़ी रोके। गाड़ी रुकने के बाद उनलोगों की पहचान क्षेत्रीय लोगों के रूप में हुई।

रात को दोबारा लौटे तीन हथियारबंद बदमाश

सांसद पति के मुताबिक जब उनलोगों से पूछताछ की गई तब उनलोगों ने मुड़ा गांव के ही दिलीप सिंह के यहां जाने की बात कही, इसके बाद उन्हें छोड़ दिया गया। कुछ ही देर के बाद एक जान पहचान वाले व्यक्ति द्वारा मेरे मोबाइल पर फोन कर गोली चलाने की बात कहते हुए धमकी भरे लहजे में देख लेने की बात कही गई, जिसे मैंने अनदेखा कर दिया, इसी बीच रात के करीब दस बजे मोटरसाइकिल पर सवार तीन हथियार बंद अपराधी हमला करने की नीयत से मेरे दलान पर आ धमके। उस वक्त सांसद एवं हमारे परिवार के सदस्य आरती की तैयारी में थे।

तीनों को पकड़कर दी गई पुलिस को सूचना

बाइक से उतरकर राहुल नाम का एक अपराधी मेरे पास आया जो नशे में था तथा दो बाइक सवार कुछ दूरी पर खड़े थे। बाइक चला रहा एक अपराधी मेरे पास खड़े अपराधी को बार बार हटने के लिए कह रहा था, हो हल्ला सुनकर उस वक्त आसपास के दर्जनों लोगों की भीड़ जमा हो गई और तीनों को लोगों ने पहचान लिया तथा छोड़ने की बात कहने लगे। उसके बाद पुनः उन्हें भी छोड़ दिया गया, लेकिन थोड़ी देर तभी बाद वे लोग दुबारा मेरे दलान कि ओर आ धमके, जिसके बाद सांसद के सुरक्षा गार्डों एवं स्थानीय लोगों ने तीनों को हथियार के साथ पकड़ लिया। इसकी सूचना एसपी को दी गई।

सूचना मिलते ही पहुंची चार थानों की पुलिस

इसके बाद मुफ्फसिल थाना, हसनपुरा थाना, सिसवन थाना एवं चैनपुर ओपी पुलिस मौके पर पहुंची तथा पकड़े गए अपराधियों को अपने साथ थाना ले गई। अजय सिंह ने बताया कि शाम की घटना के बाद हमलोग सतर्क थे। इस कारण बड़ी घटना टल गई। अजय सिंह ने बताया कि जब उन्‍होंने एसपी को फोन कर घटना की जानकारी दी तब उन्होंने कहा कि आपका घर किस थाना क्षेत्र में पड़ता है। तब मैंने उनसे कहा कि आपके सांसद के घर का थाना क्षेत्र भी मालूम नहीं है।

Download Janadesh Express E-Paper
IMG-20200519-WA0028
IMG-20190709-WA0001
IMG-20200513-WA0002