छत्तीसगढ़ देश बिग ब्रेकिंग ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य शिक्षा होम

महर्षि स्कूल का तुगलकी फरमान, फीस नहीं दी तो कर देंगे डिफाल्टर घोषित

8 12 Views
FB_IMG_1539317565939~2
Ansh
Ansh2
IMG-20200403-WA0004
IMG-20200513-WA0002

स्कूलों की मनमानी से बच्चों और अभिभावकों का हो रहा मानसिक शोषण

 जनादेश/बिलासपुरः छत्तीसगढ़ में स्कूलों की मनमानी से बच्चें और अभिभावकों का मानसिक शोषण हो रहा है। यहां बिलासपुर के महर्षि स्कूल मंगला की ज्यादती से स्कूली बच्चे और उनके परिजन मानसिक अवसाद झेल रहे है, जिसके खिलाफ अभिभावकों में आक्रोश है, स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को फीस के नाम पर मानसिक प्रताड़ना की शिकायत परिजनों ने कलेक्टर से की है, और स्कूल प्रबन्धन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

महर्षि स्कूल प्रबन्धन स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को मानसिक अवसाद की ओर धकेलने से भी गुरेज नहीं कर रहे है। प्रबन्धन ने बाकायदा एक नोटिस भेजा है, जिसमें कहा गया है, कि स्कूल की फीस जमा न करने वाले बच्चों को डिफाल्टर घोषित कर नोटिस चस्पा की जाएगी, इतना ही नहीं उसका फोटो खींचकर बच्चों के वॉट्सएप ग्रुप में भेजा जाएगा।

बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते हुए लॉकडाउन और उसके बाद आर्थिक तंगी से जूझ रहे अभिभावकों पर स्कूल प्रबंधन अब ज्यादती करने पर आमादा है। हाईकोर्ट से ट्यूशन फीस लेने के आदेश के बावजूद मंगला के महर्षि स्कूल में पूरी फीस ही ट्यूशन फीस बताकर वसूली जा रही है। स्कूलों पर कोई कार्रवाई न होने की वजह से स्कूल प्रबंधन हौसले सातवें आसमान पर है, और वे कोरोना काल में आपदा में अवसर तलाश कर दूसरे सालों से ज्यादा कमाई की फिराक में है।

 

Download Janadesh Express E-Paper
IMG-20200519-WA0028
IMG-20190709-WA0001
IMG-20200513-WA0002