उत्तरप्रदेश देश ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य होम

श्रीराम जन्मभूमि परिसर में मिले प्राचीन मंदिर के अवशेष, संत समाज में उल्लास

10 12 Views
FB_IMG_1539317565939~2
Ansh
Ansh2
IMG-20200403-WA0004
IMG-20200513-WA0002

जनादेश/ अयोध्याः उत्तरप्रदेश में रामजन्मभूमि परिसर में भव्य राममंदिर निर्माण के लिए समतलीकरण का कार्य जारी है। इसी दौरान की जा रही खुदाई में प्राचीन मंदिर के अवशेष प्राप्त हुए हैं। जिससे संत समाज में उल्लास है । संत समाज ने एक स्वर में कहा कि इतनी बहुमूल्य सामग्री मिलने से साबित हो गया कि अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर था।

बता दें कि रामजन्मभूमि परिसर के पुराने गर्भगृह स्थल के समतलीकरण का कार्य श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की देखरेख में 11 मई से चल रहा है।समतलीकरण के कार्य में अब तक खुदाई के दौरान मंदिर के अवशेष सहित विभिन्न कलाकृतियां, आमलक व विभिन्न प्रकार के पत्थर मिले हैं। इनमें  देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां, पुष्प, कलश और शिवलिंग भी शामिल हैं। खुदाई में मिल रहे अवशेष से यह सिद्ध हो गया है कि मंदिरों के इस शहर को उजाड़ा गया और देश की शीर्ष कोर्ट में सुनवाई के बाद साबित हो ही गया कि यहां मंदिर था।

रामजन्म भूमि क्षेत्र में मूर्तियां मिलने के बाद अयोध्या के संतों की प्रतिक्रिया आने लगीं। श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने कहा कि यहां पर पौराणिक काम की दर्जनों खंडित मूर्तियों के साथ ही करीब पांच फुट ऊंचा शिवलिंग मिलने से तय हो गया कि यहां पर कई मंदिर थे। यहां पर तमाम नक्काशीदार मूर्तियां मिलने के साथ ही विशाल चक्र भी मिले हैं। श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री चम्पत राय ने कहा कि मलबा हटाने के दौरान कई मूॢतयां और एक बड़ा शिवलिंग मिला है।

राम मंदिर निर्माण के लिए बनाई गई ट्रस्ट श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का कहना है कि समतलीकरण के दौरान काफी संख्या में पुरावशेष यथा देवी-देवताओं की खंडित मूॢतयां, पुष्प, कलश, आमलक, दोरजाम्ब आदि कलाकृतियां, मेहराब के पत्थर, 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तम्भ, 8 रेड सैंड स्टोन के स्तंभ और 5 फिट आकार की नक्काशीदार शिवलिंग की आकृति मिली है।

वहीं श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि अयोध्या में भावी मंदिर के निर्माण के लिए भूमि के समतलीकरण एवं पुराने गैंग-वे को हटाने का काम जारी है। कोरोना महामारी के संबंध में समय-समय पर जारी निर्देशों का पालन करते हुए मशीनों का उपयोग एवं सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजेशन, मास्क समेत अन्य सभी सुरक्षा उपायों का प्रयोग किया जा रहा है।

IMG-20200519-WA0028
IMG-20190709-WA0001
IMG-20200513-WA0002