Breaking News अपराध उत्तर प्रदेश देश राज्य होम

सीएए के विरोध के बीच संघ प्रमुख को बदनाम करने की साजिश , मुकदमा दर्ज

26 12 Views
FB_IMG_1539317565939~2
IMG-20200101-WA0008
Ansh
Ansh2

लखनऊः देश में राजनीतिक गलयारों से लेकर आम जन तक नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी का मुद्दा गर्माया हुआ है। कुछ समर्थक है तो कुछ इसका विरोध कर रहे है। इसी बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन राव भागवत को बदनाम करने की साजिश सामने आई है। संघ प्रमुख के नाम और तस्वीर के साथ सोशल मीडिया पर एक आपत्तिजनक लेख वायरल हो रहा है। जिसके विरोध में संघ पदाधिकारियों ने हजरतगंज और गोमतीनगर थाने में दो एफआइआर दर्ज कराई हैं।

बता दें कि अराजकतत्वों  नाम और फोटो का प्रयोग कर संविधान की संरचना का मखौल उड़ाते हुए ‘नया भारतीय संविधान’ शीर्षक से सोशल मीडिया पर एक लेख वायरल किया है। लेख में आपत्तिजनक टिप्पणी लिखी है। लेख को संघ प्रमुख की ओर से लिखित बताया जा रहा है जबकि संघ कार्यालय ने इस तरह के किसी भी संदेश की जानकारी से इन्कार किया है।

तहरीर में लगाए आरोप

नगर कार्यवाह तुलाराम निमेश ने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया है कि कुछ असामाजिक तत्व देश का माहौल खराब करना चाहते हैैं। इसके चलते ही भारतीय संविधान के नाम का प्रयोग कर उसकी संप्रभुता से खिलवाड़ किया गया है। लेख के जरिए समाज में फूट डालने एवं संघ की छवि धूमिल की साजिश है। समाज में जाति, वर्ण, और धर्म को हथियार बनाकर लोगों में विभेद उत्पन्न करने की कोशिश की जा रही है। लेख का उद्देश्य जाति व समुदाय के लोगों में एक-दूसरे के प्रति घृणा पैदा करना है।

पुलिस ने भी माहौल  बिगाडऩे की बड़ी साजिश

दरअसल, जिस ढंग से आपत्तिजनक लेख लिखा गया है, पुलिस भी मौजूदा माहौल को बिगाडऩे की बड़ी साजिश के रूप में देख रही है। इसमें सिर्फ एक जाति को महिमामंडित करते हुए शेष को उकसाने का प्रयास किया गया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद इस बात की जांच की जा रही है कि कहीं इसके पीछे भारत विरोधी तत्वों की संलिप्तता तो नहीं है।

 

IMG-20190709-WA0001
IMG-20200118-WA0019