दुनिया देश नई दिल्ली ब्रेकिंग न्यूज़ राज्य होम

प्रदर्शनकारी छात्रों से मिलीं जामिया वीसी, कहा पुलिस के खिलाफ “हम जाएंगे कोर्ट”

189 12 Views
FB_IMG_1539317565939~2
Ansh
Ansh2
IMG-20200403-WA0004
IMG-20200513-WA0002

नई दिल्लीः जामिया कैंपस के भीतर स्थित लाइब्रेरी में पुलिस द्वारा की गई बर्बरता पर अभी तक एफआईआर दर्ज नही हुई है। जिससे गुस्साए छात्रों ने सोमवार को विश्वविद्यालय के छात्रों ने वीसी दफ्तर का घेराव कर प्रदर्शन किया। छात्रों के प्रदर्शन के कुछ घंटों बाद वीसी नजमा अख्तर उनसे मिलने पहुंची । इस दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि 15 दिसंबर को हुई हिंसा के दौरान दिल्ली पुलिस बिना इजाजत के कैंपस में घुसी थी। वह पुलिस के खिलाफ कोर्ट जाएगी।

कुलपति नजमा अख्तर ने कहा कि हम सरकारी कर्मचारी हैं। उन्होंने हॉस्टल खाली कराने का आदेश नहीं दिया था। इस मामले में सरकार से आपत्ति भी दर्ज कराई गई है। उन्होंने कहा कि जामिया प्रशासन छात्रों की सुरक्षा के लिए  प्रतिबद्ध है। छात्रों की सुरक्षा व्यवस्था दोगुनी की जाएगी। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस एफआइआर दर्ज नहीं कर रही है। हम कोर्ट जाएंगे। जामिया की वीसी ने आरोप लगाया कि पुलिस ने कैंपस में घुसकर छात्रों की पिटाई की। मंगलवार से एफआइआर दर्ज कराने  की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिन छात्रों को पुलिस ले गई थी वे वापस आए।

बताया जा रहा है कि छात्रों ने मुख्य गेट पर लगा ताला तोड़ने के बाद कार्यालय परिसर में घुस गए और वीसी के खिलाफ नारेबाजी की। वे कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गए। सैकड़ों छात्रों ने वीसी कार्यालय का घेराव किया और ‘वाइस चांसलर चुप्पी तोड़ो’ के नारे लगाए ।प्रदर्शनकारियों का कहना था कि वीसी बताएं दिल्ली पुलिस के खिलाफ अब तक क्यों नहीं मामला दर्ज करवाया गया है। छात्रों का कहना है कि पुलिस को जामिया में घुसने की इजाजत किसने दी थी।

बता दें कि दिसंबर महीने में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ जामिया नगर में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। उपद्रवियों ने कई बसों और निजी वाहनों को आग के हवाले कर दिया था। आरोप है कि कुछ प्रदर्शनकारी जामिया मिलिया इस्लामिया में घुस गए थे। दिल्ली पुलिस भी उपद्रवियों को पकड़ने के लिए विश्वविद्यालय परिसर में घुस गई थी। आरोप है कि पुलिस बिना इजाजत यूनिवर्सिटी में घुसी थी और कुछ लोगों की पिटाई भी की थी। हालांकि पुलिस ने पिटाई के आरोपों का खंडन किया था और कहा था कि इजाजत लेने के बाद ही पुलिस जामिया में गई थी।

 

Download Janadesh Express E-Paper
IMG-20200519-WA0028
IMG-20190709-WA0001
IMG-20200513-WA0002