Breaking News

अरना में मोहर्रम और महावीरी अखाड़ा मेले को लेकर आयोजित शांति समिति में दिया निर्देश

99 00 Views


उचकागांव (गोपालगंज) थाना क्षेत्र के अरना बाजार में सीओ रामबचन राम के अध्यक्षता में 9 सितंबर की रात और 10 सितंबर के दिन होने वाले मोहर्रम और अरना बाजार में 11 और 12 सितंबर को आयोजित महावीरी अखाड़ा मेले को लेकर शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान बीडीओ संदीप सौरभ ने कहा कि महावीरी अखाड़ा मेले और मोहर्रम के दौरान डीजे और आर्केस्ट्रा पूरी तरीके से प्रतिबंध रहेगा। इस दौरान कानून कानून का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। जिसके बाद दोनों पक्षों के द्वारा के शांतिपूर्ण ढंग से मोहर्रम और महावीरी अखाड़ा का मेला आयोजित करने का आश्वासन दिया। इस दौरान बीडीओ संदीप सौरभ ने कहा कि 2 वर्ष पहले अरना बाजार में दशहरा पर्व और मोहर्रम के पडने के दौरान दोनों पक्षों के बीच हुए बवाल व तोडफोड और पिछले वर्ष अरना बाजार में आने वाले लुहसी गांव के महावीर अखाड़ा जुलूस और जमसडी गांव के जुलूस के बीच हुए पथराव के बाद अरना बाजार का दोनों मेला जिला प्रशासन द्वारा संवेदनशील घोषित किया गया। इस दौरान किसी भी प्रकार शिकायत होने पर शरारती तत्वों के विरूद्ध निश्चित रूप से कार्यवाही की जाएगी। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा महावीरी अखाड़ा और मोहर्रम जुलूस के सीसीटीवी कैमरे से निगरानी करने के साथ-साथ पूरे जुलूस की वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई जाएगी। जबकि पूरे मेले के दौरान भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात रहेगा। उन्होंने कहा कि इस दौरान अरना बाजार में विवादित स्थल की प्रशासन के द्वारा बैरिकेडिंग भी कराई जाएगी। जिसमें मोहर्रम और महावीरी अखाड़ा जुलूस का जाना पूरी तरीके से प्रतिबंधित रहेगा। शांति समिति की बैठक के दौरान स्थानीय लोगों द्वारा 2 वर्ष पूर्व दशहरा और मोहर्रम के दौरान हुए विवाद मामले मे चल रहे न्यायायीक प्रक्रिया में प्रशासन से आपसी सुलह कराने का निवेदन किया गया। जिस पर प्रखंड प्रमुख रामाशीष सिंह ने कहा कि युवा वर्ग के भविष्य को देखते हुए पहल कर जल्द ही मामले का निपटारा कराया जाएगा। मौके पर थानाध्यक्ष किरण शंकर, प्रखंड प्रमुख रामाशीष सिंह, मुखिया पति दिनेश सिंह,संतोष कुमार राजा, साह आलम, सरपंच नंद कुमार यादव, जैनुल हक काफी संख्या में जनप्रतिनिधि, पदाधिकारी एवं आम लोग मौके पर उपस्थित थे।