लाइफस्टाइल होम

कुदरत को बचाकर रखा इसलिए दुनिया का सबसे खुश और शांत देश बना भूटान

289 12 Views
FB_IMG_1539317565939~2
IMG-20200101-WA0008
Ansh
Ansh2

दुनिया के 5 सबसे प्रदूषित शहरों में भारत के 7 शहर शामिल हैं। लेकिन भारत पड़ोसी देश भूटान से एकदम उलट है। भूटान दुनिया का प्रदूषण मुक्त देश है और खुशहाल देश भी। इस उपलब्धि में जितना योगदान सरकारी नीतियों का है, उतना ही यहां के लोगों का भी। इसकी खूबसूरती देखकर देश-दुनिया से पर्यटक यहां पहुंचते हैं।

भूटान के जाने-माने चिंतक और ग्रोस नेशनल हैप्पीनेस सेंटर भूटान के प्रमुख डॉ. सांगडू छेत्री कहते हैं कि भूटान के लोग प्रकृति को भगवान मानते हैं। वहां आज भी कई पीढ़ियां एक साथ, एक ही घर में प्रकृति की फिक्र के साथ रहती हैं। भूटान की जीडीपी भारत की तुलना में बहुत कम है मगर वहां के लोग प्रसन्नचित, संतुष्ट, प्रकृति से प्रेम करते हुए जीवन मूल्यों को देखते हुए आगे बढ़ रहे हैं।

भूटान की सबसे बड़ी ताकत यहां के जंगल। इसे दुनिया का सबसे हरा-भरा देश माना जाता है। प्रकृति के घिरे भूटान को दुनिया का सबसे ज्यादा ऑक्सीजन बनाने वाला देश माना जाता है। यहां के 70 फीसदी हिस्से में जंगल है। ऊंचे पर्वत, नदियों का साफ पानी और हरियाली यहां की खासियत। यहां जितना कार्बन सालभर में पैदा होता है, उसे यहां के जंगल ही नष्ट कर देते हैं। इस खूबी के कारण भूटान प्रदूषण रहित है। जंगल को बचाने के लिए सरकार ही नहीं यहां के लोग भी बराबर योगदान देते हैं।

प्लास्टिक किस हद तक खतरनाक है, इसे भूटान में बहुत पहले समझ लिया गया था। 1999 में यहां प्लास्टिक के कई सामानों पर प्रतिबंध लगाया गया था। 20 साल बाद भी कई देशों ने इस नियम को अपने यहां लागू नहीं किया, लिहाज समुद्र की गहराई टनों प्लास्टिक कचरा पहुंच रहा है। प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने के नियम को यहां का हर नागरिक अभियान की तरह मानता है और सख्ती से इसका पालन भी करता है।

भूटान की ज्यादातर नीतियां ऐसी हैं जो पर्यावरण और लोगों, दोनों की सेहत को दुरुस्त रखने का काम करती हैं। सिगरेट और धूम्रपान से भूटान की लड़ाई काफी पुरानी है। कहते हैं 1729 में तम्बाकू पर कानून लाने वाला भूटान पहला देश था। 1990 में यहां तम्बाकू और सिगरेट के खिलाफ अभियान और सख्त हुआ। नतीजा, भूटान के करीब 20 जिले स्मोक फ्री घोषित किए गए। 2004 में स्मोकिंग को पूरे देश में बैन कर दिया गया। कानून के मुताबिक, सिगरेट और तम्बाकू के सेवन करते पकड़े जाने पर सीधी जेल होगी और जमानत नहीं दी जाएगी।

IMG-20190709-WA0001
IMG-20200118-WA0019