2019 का ताज उत्तर प्रदेश उत्तरप्रदेश नई दिल्ली राजनीति राजनीती होम

चुनाव आयोग ने विवादित बोल पर की कार्रवाई, योगी 72 और मायावती 48 घंटे नहीं कर सकते प्रचार

176 00 Views

 चुनाव प्रचार के दौरान विद्वेष फैलाने वाले भाषणों के चलते चुनाव आयोग ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ पर 72 घंटे और मायावती पर 48 घंटे का प्रतिबंध लगाया।

  • मंगलवार सुबह छह बजे से शुरु होगा बैन

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव प्रचार के दौरान बसपा प्रमुख मायावती और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के कथित रूप से विद्वेष फैलाने वाले भाषणों (हेट स्पीच) का सोमवार को संज्ञान लिया और निर्वाचन आयोग से जानना चाहा कि उसने इनके खिलाफ अभी तक क्या कार्रवाई की है।

निर्वाचन आयोग जाति और धर्म के आधार पर विद्वेष फैलाने वाले भाषण के लिये नोटिस जारी कर सकता है- सुप्रीम कोर्ट

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के नेतृत्व वाली पीठ ने चुनाव प्रचार के दौरान जाति एवं धर्म को आधार बना कर विद्वेष फैलाने वाले भाषणों से निबटने के लिये आयोग के पास सीमित अधिकार होने के कथन से सहमति जताई। और निर्वाचन आयोग के एक प्रतिनिधि को मंगलवार को तलब किया है। पीठ ने निर्वाचन आयोग के इस कथन का उल्लेख किया की वो जाति और धर्म के आधार पर विद्वेष फैलाने वाले भाषण के लिये नोटिस जारी कर सकता है। इसके बाद परामर्श दे सकता है। और अंतत: ऐसे नेता के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में शिकायत दर्ज करा सकता है।

पीठ ने कहा, ” चुनाव आयोग ने कहा कि उनके हाथ में कुछ नहीं है। उन्होंने कहा कि वे पहले नोटिस जारी करेंगे, फिर परामर्श जारी होगा और फिर शिकायत दर्ज की जाएगी। पीठ ने कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान इस तरह के विद्वेष फैलाने वाले भाषणों से निबटने के आयोग के अधिकार से संबंधित पहलू पर वह गौर करेगा।