मध्यप्रदेश : अंत तक छाया है जीत पर धुंधलका

भोपाल, 11 दिसंबर (जनादेश एक्सप्रेस) | मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच दिनभर चली कांटे की टक्कर में देर रात तक तस्वीर पर धुंधलका छाया रहा। भाजपा और कांग्रेस की 111-111 सीटों पर बढ़त बनी हुई है। 13 सीटें ऐसी हैं, जिन पर उम्मीदवार 1,000 मतों से कम की बढ़त पर है और ये ही सीटें सरकार किसकी बनेगी, तय करेंगी। राज्य में रात साढ़े आठ बजे तक मतगणना का दौर जारी रहा, 230 सीटों में मतगणना में कांग्रेस और भाजपा 111-111 सीटों पर आगे बनी हुई है। अभी तक जो नतीजे घोषित हुए हैं, उसमें भाजपा को 29 स्थानों और कांग्रेस को 27 स्थानों पर जीत दर्ज की है। दूसरी ओर कांग्रेस 84 और भाजपा 82 सीटों पर आगे है।

वहीं भाजपा सरकार के मंत्रियों में जयभान सिंह पवैया, रुस्तम सिंह, लाल सिंह आर्य, अंतर सिंह आर्य, अर्चना चिटनीस, बालकृष्ण पाटीदार, दीपक जोशी अपनी-अपनी सीट पर पिछड़े हुए हैं।

राज्य में मतगणना का दौर जारी है, कांग्रेस जहां 113 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है, वहीं भाजपा 109 सीटों पर आगे है। वहीं आठ सीटों पर अन्य को बढ़त है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी विधानसभा क्षेत्र से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी अरुण यादव से 53 हजार से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं। वहीं सरकार के मंत्री नरोत्तम मिश्रा, जयंत मलैया, राजेंद्र शुक्ल, रामपाल सिंह, करण सिंह वर्मा अपने प्रतिद्वंद्वी से आगे चल रहे हैं। वहीं कांग्रेस के दिग्गजों में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, सुरेश पचौरी पिछड़े हुए हैं।

राज्य में पहले डाक मतपत्रों की गिनती हुई और उसके बाद ईवीएम की गिनती शुरू हुई। रुझान जो सामने आए हैं, उनमें शुरू से कड़ी टक्कर है, कांग्रेस-भाजपा को 111-111 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं। इसके अलावा आठ सीटों पर अन्य आगे चल रहे हैं, जिनमें बहुजन समाज पार्टी दो, समाजवादी पार्टी एक और निर्दलीय पांच स्थानों पर बढ़त बनाए हुए हैं।

राज्य में मतगणना की शुरुआत डाक मतपत्रों से हुई। डाक मतपत्रों की गिनती पूरी हुई। राज्य में 2899 उम्मीदवारों के भाग्य का आज फैसला होने वाला है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजामों के बीच मतगणना हो रही है।राज्य के 51 जिला मुख्यालयों के 230 विधानसभा क्षेत्रों के मतों की गिनती हो रही है।

मतगणना 230 प्रेक्षकों की मौजूदगी में 306 हॉल में मतगणना हो रही है। इसमें 3220 टेबलें मतगणना के लिए लगाई गई है। बताया गया है कि 154 विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना एक कक्ष में (14 टेबल लगाकर) में मतगणना चल रही है, जबकि 76 विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना दो कक्षों में अर्थात् 152 कक्षों में गिनती हो रही है।