50 दिन बाद घर लौटा डूमरिया पुल से गायब नीलेश

👉 निलेश की तलाश मे पुलिस लाखों रूपए की कर चूंकि है खर्च 
👉 निलेश के पिता ने हत्या की दर्ज कराया था प्राथमिकी

गोपालगंज:- जिले के महम्मदपुर थाना हाईवे पर गंडक नदी पर बने डुमरिया पुल से गत 19 नवंबर को रहस्यमय तरीके से गायब बरौली थाना क्षेत्र के बघेजी गांव का निवासी व शिक्षक पुत्र अनीष पाण्डेय करीब 50 दिन बाद घर पहुंच गया। इस बात की सूचना मिलने के बाद महम्मदपुर थानाध्यक्ष विनय प्रताप ¨सह के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने युवक के दरवाजे पर पहुंच गई तथा उससे घंटों पूछताछ में जुटी रही। पुलिस को इस बात का संदेह है कि उसने खुद ही अपने कथित अपहरण की साजिश तो नहीं रची थी।पुलिस सूत्रों ने बताया कि बघेजी गांव का अनीष पाण्डेय बीते 19 नवबंर को अपने घर से बाइक पर सवार होकर मोतिहारी स्थित अपने ससुराल जाने के लिए निकला था। इसी बीच हाईवे पर डुमरिया पुल पर उसकी बाइक व हेमलेट लावारिस हालत में पुलिस ने बरामद किया था। इस घटना को लेकर अनीष के पिता के बयान पर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई। जिसमें उसके हत्या की भी आशंका जताई गई। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद दो दिनों तक एनडीआरएफ की टीम गंडक नदी में अनीष की तलाश करती रही। लेकिन उसके बारे में पुलिस को कोई भी सुराग नहीं मिला। पुलिस को मामले की जांच के दौरान इस बात की भनक मिली कि वह आंध्रप्रदेश गया है। इस बीच उसने कुछ समय के लिए गुजरात में भी रुका है। पुलिस अनीष की बरामदगी की दिशा में कार्य कर रही रही थी कि शनिवार को देर रात अचानक वह अपने घर पहुंच गया। अनीष के घर लौटते ही परिवार के लोगों की आंखे खुली रह गई। अनीष पाण्डेय के परिवार के सदस्यों ने बताया कि उसके बेटे का अपहरण किया गया था। पुलिस दबिश के कारण अपहरण करने वाले आरोपियों ने उसे घर के दरवाजे पर लाकर छोड़ दिया। लेकिन पुलिस परिजनों के बयान से संतुष्ट नहीं होने के कारण अनीष पाण्डेय को पूछताछ के लिए महम्मदपुर थाना लेकर चली गई। जहां उससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस से सच छुपाने का प्रयास कर रहा अनीश👇

महम्मदपुर थाना के डुमरिया पुल के पास से गत 19 नवम्बर को गायब हुआ अनीश पाण्डेय 50 पचास दिन बाद पुलिस के गिरफ्त में आया। किंतु पहले दिन की पूछताछ के दौरान उसने पुलिस को सच नहीं बताया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि अनीष पूछताछ में सच छुपाने का प्रयास कर रहा है। अनीश के अनुसार वह घटना के दौरान अपराधियो की मार से बेहोश हो गया था। उसके बाद से लगातार 48 दिन बेहोश रहा और उसको होश आया तो अपने को सिवान रेलवे स्टेशन पर पाया। उसके बाद वह सीधे घर बघेजी आ गया।

क्या कहते है एएसपी 👇

एएसपी विनय तिवारी ने बताया कि बीते 19 नवंबर को बरौली थाना क्षेत्र के बघेजी गांव का अनीष पाण्डेय गायब हुआ था। घटना के समय ही यह साफ हो गया था कि वह खुद ही कोई प्लान बना कर गायब हुआ है। उसके बाद उसकी तलाश किया जाने लगा। वह इन 50 दिनों में गुजरात, महाराष्ट्र व आंध प्रदेश में रहा है। तभी शनिवार को वह अचानक अपने घर लौट आया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। पूछताछ के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो सकेगा।